"> ');
Home » भगवान शनिदेव के ये हैं सबसे चमत्कारी मंदिर…
धार्मिक

भगवान शनिदेव के ये हैं सबसे चमत्कारी मंदिर…

Shani dev Mandir Ujjain

Pooja cloths house

भगवान शनिदेव के सबसे चमत्कारी मंदिर जिसमें दर्शन मात्र से ही दुख दूर हो जाते है।

भगवान शनिदेव की महिमा बड़ी ही निराली है। शनिदेव अपने भक्तों के बड़े ही हितकारी है,  जिसको भी शुभ दृष्टि के देखते है उसके जीवन को खुशियों से भर देते हैं। लेकिन कहा जाता है कि इनके कोप से बचना भी मुश्किल है।  जब ये किसी पर कुदृष्टि डालते है, तो उसके सभी पापों का फल देकर उसका उद्धार कर देते है। भगवान शनिदेव की महिमा का वर्णन युगों युगों से किया जाता रहा है और आज भी इनके ऐसे शक्तिशाली मंदिर मौजूद हैं। जहां दर्शन करने मात्र से ही जीवन के हर दुख का विनाश हो जाता है।

-आपको बताते हैं कौनसे हैं वो 6 सबसे शक्तिशाली और चमत्मकारी मंदिर

1. उज्जैन का श्री शनि मंदिर

उज्जैन में भगवान शनि का मंदिर है। जिसकी महिमा बड़ी ही निराली है। उज्जैन को मध्य प्रदेश की धार्मिक राजधानी कहा जाता है और यहां सांवली रोड पर बाबा शनिदेव नवग्रह के साथ विराजित हैं। इसलिए इस मंदिर को नवग्रह मंदिर कहा जाता है। जो मनुष्य शनि प्रकोप में आ जाते हैं। वो यहां दर्शन के लिए आते है। इस मंदिर की एक बड़ी ही महिमा यह भी है कि यह मंदिर शिप्रा नदी के पास है और इसे त्रिवेणी संगम भी कहा जाता है।

Shani dev Mandir Ujjain
शनिदेव मंदिर उज्जैन

2. शनि मंदिर, इंदौर

वैसे तो न जाने शनि देव के कितने मंदिर हैं। जिनकी अपनी अलग-अलग महिमा है। लेकिन हम आपको शक्तिशाली और प्रसिद्ध मंदिर के बारे में बता रहे हैं। मध्यप्रदेश के इंदौर में शनिदेव का बड़ा ही विचित्र मंदिर है। इस मंदिर को सबसे अलग अद्भुत माना जाता है। क्योंकि यहां पर भगवान शनिदेव का सोलह श्रंगार किया जाता है। वैसे तो शनिदेव की प्रतिमा का कभी श्रृंगार नहीं होता लेकिन इस मंदिर में हर रोज आकर्षण आभूषणों, वस्त्रों और श्रृंगार के साथ श्री शनिदेव की प्रतिमा को सजाया जाता है। इससे शनि देव बहुत सुंदर रूप में दर्शन देते हैं।

Shani dev Mandir Indore
शनिदेव मंदिर इंदौर

3. शनि मंदिर,कोसीकलां

दिल्ली से लगभग 128 किलोमीटर की दूरी पर कोसीकलां नाम की जगह है। जहां पर भगवान शनिदेव साक्षात रूप में रहते हैं। यह मंदिर बड़ा ही शक्तिशाली है, कहा जाता है कि इस मंदिर की परिक्रमा करने मात्र से ही शनिदेव प्रसन्न हो जाते हैं और अपने भक्तों को मनइच्छित फल देते हैं। इस मंदिर में जाने से शनिदेव का कोप भी शनिकृपा में बदल जाता है। यदि आप दिल्ली के आसपास रहते है भगवान शनि देव के दर्शन आसानी से कर सकते हैं।

Shani Mandir Koshikala
शनिदेव मंदिर कोसीकलां

4. कष्टभंजन हनुमान मंदिर

गुजरात में भावनगर के सारंगपुर में भगवान हनुमान मंदिर है। जो कष्टभंजन हनुमान जी के नाम से प्रसिद्ध है। दरअसल इस मंदिर में श्री हनुमान जी के साथ भगवान शनिदेव जी भी विराजते हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इस मंदिर में श्री हनुमान जी के चरणों में शनि देव स्त्री रूप में बैठे हैं। मान्यता है कि जिसकी भी कुंडली में शनिदेव का दोष होता है, उसे खत्म करने के लिए यहां कष्टभंजन हनुमान जी के दर्शन जरूर करने चाहिए।

कष्टभंजन हनुमान मंदिर सारंगपुर गुजरात
कष्टभंजन हनुमान मंदिर सारंगपुर गुजरात

5. शनि शिंगणापुर, महाराष्ट्र

महाराष्ट्र के शिंगणापुर में भगवान शनि का सबसे खास मंदिर से है। इस मंदिर में  भगवान शनिदेव की प्रतिमा खुले आसमान के नीचे स्थापित है। यही कारण है कि यह मंदिर विचित्र मंदिरों में गिना जाता है। इस गांव में एक प्रथा है कि यहां लोग अपने घरों पर ताला नहीं लगाते, क्योंकि यहां पर श्री शनिदेव सबके घरों की स्वयं रक्षा करते हैं। यदि आप भी चाहते हैं ऐसे भगवान शनिदेव के दर्शन करने तो महाराष्ट्र के शिंगणापुर में जाकर बाबा शनिदेव की पूजा- अर्चना करें।

शनि शिंगणापुर, महाराष्ट्र
शनि शिंगणापुर, महाराष्ट्र

6. शनिश्चरा मंदिर, ग्वालियर

शनिश्चरा मंदिर ग्वालियर में स्थित है। यह शनि मंदिर बड़ा ही प्राचीन है। लोकमान्य कथाओं के अनुसार माना जाता है कि भगवान हनुमान ने लंका से शनि पिंड फेंका था, जो ग्वालियर में आकर गिरा और यहां पर शनिश्चरा मंदिर बना दिया गया। यहीं कारण है कि यह मंदिर बड़ा ही विशेष माना जाता है। यहां पर एक अलग प्रथा है कि भगवान शनि देव के दर्शन करने के बाद यहां तेल चढ़ाया जाता है और भक्त भगवान शनिदेव से गले मिलते हैं। जो भी यहां आता है भगवान शनिदेव से गले मिलकर तकलीफ और परेशानियों को बांटता है। जिससे बाबा शनिदेव मनुष्य की सभी समस्याओं को दूर कर देते है।

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center