"> ');
Home » जानें कैसे सबसे खतरनाक रहा मई का महीना
राष्ट्रीय

जानें कैसे सबसे खतरनाक रहा मई का महीना

Yuva Bharat Samachar-Ek Naya Nazariya

Pooja cloths house

भारत में लगातार कोरोना का कहर बढ़ रहा है। केवल 27 दिनों में कोरोना के 1 लाख 16 हजार से भी ज्यादा नए मामले सामने आएं हैं। मई में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। देश में कोरोना वायरस कम होने की बजाय लगातार तेजी से बढ़ता ही जा रहा है। ना तो यह कहर रूकने का नाम ले रहा है और ना ही इसका अभी कोई इलाज मिल पाया है। भारत में अभी तक 1,51,800  मामले सामने आ चुके हैं। वही 4,400 लोगों की मौत हो चुकी है। बात पिछले 24 घंटे की करें, तो देश में कुल 6,387 मामले सामने आए। वही 1,51,800 मामलों में 83,000 से भी ज्यादा एक्टिव केस हैं। राहत की बात यह है कि 64,000 से भी ज्यादा मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।

– महाराष्ट्र सबसे ज्यादा संक्रमित
राज्यों में सबसे खराब स्थिति महाराष्ट्र की है। जहां पर 54, 800 से ज्यादा मामले हो चुके हैं। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु आता है। तमिलनाडु में अब तक 17,728 मामले हैं। गुजरात में भी कोरोना की स्थिति कुछ ठीक नहीं है। यहां पर 14,821 कोरोना मरीज हैं। जिसमें से 7,139 ठीक हो चुके हैं और 915 लोगों की मौत हो चुकी है। राजधानी की बात करें, तो राजधानी में अभी तक 14,465 मामले सामने आए हैं। जिसमें से 228 लोगों को कोरोना ने अपना शिकार बना लिया हैं। राजस्थान में 7,536 मामले सामने आए। जिनमें से 4,171 मरीज ठीक हो गए। जबकि 170 मरीजों की मौत हो चुकी है। ऐसा ही कुछ हाल यूपी का है। यूपी में 6,548 मामले हैं। आंध्र प्रदेश में 3,171, ओडिशा में 1,517, पश्चिम बंगाल में 4000 से ज्यादा जबकि कर्नाटक में 2,283, बिहार में 2,983,  पंजाब में 2,106 और तेलंगाना में 1991 कोरोना पॉजिटिव हैं।

– दुनिया में कोरोना की स्थिति
दुनिया में कोरोना से 3,50,423 लोगों की मौत हो चुकी है। इस महामारी  के कहर से दुनिया के बहुत कम देश बच पाए हैं। सबसे ज्यादा केस अमेरिका, ब्राजील, रूस, स्पेन, ब्रिटेन, इटली, फ्रांस, जर्मनी और तुर्की में है। इन देशों में तेजी से मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। अमेरिका में कोरोना मरीजों की संख्या 1,725,275, ब्राजील में 394,507, स्पेन में 283,339, ब्रिटेन में 265,227, इटली में 230,555 जबकि फ्रांस में 182,722 मामले सामने आ चुके हैं। इस तरह से दुनियाभर में स्थिति भयावह बनी हुई है।

– सबसे खतरनाक रहा मई का महीना
भारत में मई में सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। पहला कोरोना केस भारत में 30 जनवरी को सामने आया था। जिसके बाद फरवरी में इसकी रफ्तार धीमी ही थी। लेकिन अप्रैल में मामले बढ़ते चले गए और मई में कोरोना ने पूरी तरह से पैर पसार लिए है। मई में 27 दिनों में 1 लाख 16 हजार 908 केस जुड़ गए। यानी कि मई के महीने में सवा लाख से भी ज्यादा कोरोना केस सामने आ चुके हैं। यह मई सबसे ज्यादा खतरनाक साबित हुआ है।

कोरोनावायरस के मामले लगातार तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में एतिहात बरतना बहुत जरूरी है। यदि कोरोना को हराना है तो दूरी बनाकर रखें और समय-समय पर हाथ धोना ना भूलें।

Written By: Pooja Sahaniya

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center