"> ');
Home » लॉकडाउन 5 में कितनी सख्ती, कितनी राहत !
राष्ट्रीय

लॉकडाउन 5 में कितनी सख्ती, कितनी राहत !

Yuva Bharat Samachar-Ek Naya Nazariya

Pooja cloths house

 

लॉकडाउन 4.0 खत्म होने पर हैं। ऐसे में लोगों के मन में कई सावल उठ रहे हैं कि

– क्या फिर से लॉकडाउन बढ़ाया जाएगा ?

– लॉकडाउन 5.0 में कितनी सख्ती बढ़ाई जाएगी?

– लॉकडाउन 5.0 क्या-क्या छूट मिलेगी ?

– क्या स्कूल-कॉलेज खोल दिए जाएंगे?

– कब तक के लिए बढ़ाया जाएगा लॉकडाउन?

– लोकडाउन 5.0 ?

– क्या पहले की तरह बस-ट्रेन चलने लगेंगी ?

– क्या पहले की तरह बाजार गुलजार हो जाएगें ?

अब लॉकडाउन 4.0 के खत्म होने में एक ही दिन शेष रह गया है। ऐसे में लॉकडाउन 5.0  पर सबकी नजर टिकी हुई है। लोगों के मन में सवाल है, क्या लॉकडाउन को बढ़ा दिया जाएगा।  कोरोनावायरस के केस जितनी तेजी से बढ़ रहे है। उससे ये साफ है कि लॉकडाउन अभी लंबे समय तक रह सकता है।

लेकिन सवाल है कि लॉकडाउन 5.0  में क्या-क्या सख्ती बढ़ाई जाएगी और क्या राहतें दी जाएंगी। दरअसल, लॉकडाउन 4.0  मई 31, रविवार को लॉकडाउन का चौथा चरण भी समाप्त हो जाएगा।

आपको बता दें, गृह मंत्री अमित शाह मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक ले चुके हैं। जिसमें आने वाले लॉकडाउन 5.0 पर विचार किया गया। अमित शाह ने मुख्यमंत्रियों से मिले फीडबैक को पीएम मोदी के साथ साझा किया। सूत्रों के मुताबिक, कई राज्य लॉकडाउन जारी रखने के पक्ष में है। अब केंद्र सरकार जल्द ही फैसला लेगी कि कब तक लॉकडाउन को बढ़ाया जाएगा। सूत्रों की मानें तो 15 जून तक लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है।

तो आपको बताते है कि लॉकडाउन 5.0 की रूपरेखा कैसी हो सकती हैः

– कैसा हो सकता है लॉकडाउन 5.0  
जिस तरह से लॉकडाउन 4.0  लगाते वक्त सरकार ने बहुत सारी रियायतें दी और चरणबद्ध तरीके से कई चीजों को खोला गया। उम्मीद है कि लॉकडाउन 5.0 में भी इसी तरह से धीरे-धीरे करके छूट दी जाएगी। ताकि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सके।

बेहद प्रभावित शहर जिसमें नई दिल्ली, अहमदाबाद, मुंबई, चेन्नई, ठाणे, पुणे, कोलकाता, हावड़ा, इंदौर, जयपुर, जोधपुर आदि को छोड़कर बाकी सभी जगह छूट दी जा सकती है। लॉकडाउन 5.0 में मेट्रो ट्रेनों को भी चलाने पर विचार किया जा रहा है। साथ ही धार्मिक स्थलों को भी खोलने की अनुमति भी दी जा सकती है। अंतरराष्ट्रीय उड़ानों, सिनेमा हॉल, स्कूल-कॉलेज, मॉल खोलने पर राज्य सरकार शहर की स्थिति को देखकर निर्णय कर सकती है। परीक्षाओं को लेकर भी लॉकडाउन 5.0 में फैसला आने की उम्मीदें है।

– किस राज्य में कैसे होगा लॉकडाउन 5.0

नई दिल्ली

लॉकडाउन 5.0 में नई दिल्ली में कई बड़े बाजार चांदनी चौक और सदर बाजार को खोल सकता है। साथ ही मेट्रो को भी चलाया जा सकता है। हालांकि केंद्र सरकार की अनुमति के बाद ही मेट्रो सेवा को खोला जाएगा। वहीं दिल्ली में मॉल, सैलून और रेस्टोरेंट को ऑडईवन के हिसाब से खोले जा सकते हैं। 

उत्तर प्रदेश

यूपी में आठ शहरों में सख्ती बढ़ाई जा सकती है। जिनमें मेरठ, आगरा, लखनऊ, कानपुर, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मुरादाबाद शामिल हो सकते हैं। इन शहरों में कोरोना के केस कम होने की बजाय लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसलिए यूपी के इन शहरों को छोड़कर बाकी जगह पर सरकार छूट दे सकती है। साथ ही परिवहन सेवा, धार्मिक स्थलों और मॉल को शर्तों के खोला जा सकता है। 

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में  भी औद्योगिक इकाइयों को शुरू कराया जा सकता है। मुबई में कंटेनमेंट जॉन को छोड़कर शोरूम, दुकानों, सैलून और फैक्ट्रियों को भी शर्तों को साथ खोला जा सकता है।

जम्मू कश्मीर

लॉकडाउन 5.0 में जम्मू कश्मीर में मॉल, मल्टीप्लेस, रेस्टोरेंट, स्कूल-कॉलेज को छोड़कर दूसरी गतिविधियों में इजाजत दी जा सकती है।

केरल

कोरोनावायरस से लड़ने के लिए केरल काफी हद तक कामयाब रहा है। केरल में मंदिर, चर्च, मस्जिद खोलने की इजाजत दी जा सकती है। टेलीविजन और फिल्म निर्माण का काम भी शुरू हो सकता है।

गोवा

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत साफ कर चुके हैं कि कोरोनावायरस की मौजूदा हालात को देखते हुए लॉकडाउन 5.0 को 15 जून तक बढ़ा देना चाहिए। गोवा में सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करते हुए मॉल, रेस्टोरेंट और जिम खोलने की इजाजत दी जा सकती है।

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में हालात सही नहीं हैं। यहां सरकार दुकानों को हफ्ते में 6 दिन खोलने की इजाजत  दे सकती है और आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने की भी इजाजत दी जा सकती है।

तेलंगाना

तेलंगाना में 1 जून से टेलीविजन और फिल्मों के क्षेत्र में शूटिंग की अनुमति दी जा सकती है। हालांकि, सिनेमा थिएटर और सार्वजनिक सभा के लिए कोई इजाजत नहीं दी जा सकती।

राजस्थान

राजस्थान में गहलोत सरकार ने 1 जून से स्मारक और म्यूजियम खोलने का फैसला लिया है। हालांकि आगे भी रात में कफ्यू जारी रहेगा।

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पहले ही 1 जून से धार्मिक स्थल, प्राइवेट-सरकारी सेक्टर और जूट इंडस्ट्री को खोलने की इजाजत दे चुकी है।

उत्तराखंड

उत्तराखंड सरकार ने निर्देश जारी किया है कि 15 जून के बाद स्कूलों को क्वारंटिन सेंटर नहीं बनाया जाएगा और बाकी कुछ मामलों में छूट दी जा सकती है।

झारखंड

लॉकडाउन 5.0 को लेकर बहुत-सी रियायतें दी जा सकती है। झारखंड सरकार 1 जून से स्कूलों में सीमित गतिविधियों की अनुमति देने की योजना भी बना रही है। हो सकता है कि झारखंड में 1 जुलाई से नियमों के तहत स्कूलों को खोल दिया जाए।

सरकार के सामने बहुत सारी चुनौतियां हैं। एक तरफ तो लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं और दूसरी तरफ लॉकडाउन में भी काफी छूट दी जा रही है। अब देखना होगा कि लॉकडाउन 5.0 में बढ़ते कोरोना के मामलों को किस तरह से रोका जाएगा।

Written By: Pooja Sahaniya
Yuva Bharat Samachar

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center