"> ');
Home » विश्व दूध दिवस के 20 साल बेमिसाल
अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय

विश्व दूध दिवस के 20 साल बेमिसाल

साकेंतिक चित्र

Pooja cloths house

आपको वो बात तो याद ही होगी कि कैसे पूरा परिवार दूध पीने के पीछे भागता था और दूध की शक्ति का गुणगान करता था। क्योंकि दूध में रोगों से लड़ने की अपार शक्ति होती है। और देश आज यानि 01 जून 2020 को विश्व दूध दिवस की 20वीं वर्षगांठ भी मना रहा है।

सांकेतिक चित्र

बीस साल पहले, संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन द्वारा विश्व दूध दिवस की स्थापना एक वैश्विक भोजन के रूप में दूध के महत्व को पहचानने और डेयरी क्षेत्र को मनाने के लिए की गई थी।  हर साल दुनिया भर में दूध और डेयरी उत्पादों के लाभों को सक्रिय रूप से बढ़ावा दिया गया है। जिसमें यह भी शामिल है कि कैसे डेयरी एक अरब लोगों की आजीविका का समर्थन करती है।
दूध का गिलास फुल, भूख की बत्ती गुल। दूध अगर हमारे आहार का एक हिस्सा है, तो इससे बड़ा ख़ज़ाना शायद ही हमारे पास हो। यह दिन आपको जागरूक करता है कि आप दूध ही नहीं बल्कि इससे बनी चीजें भी खा सकते हैं।

हर साल इसकी एक थीम पर काम किया जाता है। इस वर्ष क्यूंकि सभी कोरोनावायरस के चलते अपने घरों में बंद है, तो 20वीं सालगिरह ही इसकी थीम चुनी गई है। इससे पहले लोगों को दूध दान देना, मैराथन का आयोजन करके, सम्मलेन ओर सेमिनार करके इसके महत्व के बारे में बताया जाता था।

इस साल, ग्लोबल डेयरी प्लेटफॉर्म ने कहा कि, वह विश्व दुग्ध दिवस की 20 वीं वर्षगांठ के लिए आउटरीच, भागीदारी और पदोन्नति के मामले में नए रिकॉर्ड तोड़ने की उम्मीद कर रहा है। 

दूध हर तरीके से हमारे शरीर का ध्यान रखता है। दिल से दिमाग़, दिमाग़ से हड्डियों को पूरी तरह स्वस्थ रखता है। लेकिन दूध पीने का सही समय ही आपको स्वस्थ रख सकता है। आपके आहार में दूध शामिल हो सके इसके लिए देश में दूध उत्पादन होना भी आवश्यक है। तो हम आपको बताते हैं कि टॉप  पांच देश जो इसमें अपनी भूमिका निभा रहे हैं।

कौन है दूध के उत्पादन में नंबर वन?

सांकेतिक चित्र

अगर आपने इस बात पर कभी ध्यान नहीं दिया है तो हम आपको बताने जा रहे हैं,उन मुख्य देशों के बारे में जो एक वर्ष में सबसे अधिक दूध का उत्पादन करते हैं। आपको जान कर हैरानी और खुशी दोनों हो सकती है।

1. भारत
दुनिया में सबसे ज्यादा दूध का उत्पादन करने वाला देश भारत है। हमारे यहां सालाना 18.61 करोड़ टन दूध का उत्पादन होता है। कैट ने नीति आयोग के आंकड़े का हवाला देते हुए कहा है कि 2033 तक देश में दूध की डिमांड 29.2 करोड़ टन होगी। जबकि देश में दूध का कुल प्रोडक्शन 33 करोड़ टन का होगा।
2018 की बात करें तो देश में 176.3 मिलियन टन दूध का उत्पादन हुआ।

2.अमेरिका
दूध उत्पादन में भारत के बाद अमेरिका दूसरे नंबर पर आता है। 107.5 मि‍लि‍यन टन का उत्पादन अमेरिका ने साल 2018 में किया था।

3 चीन
अमेरिका भले ही वर्ल्ड पॉवर हो लेकिन चीन भी किसी चीज़ में पीछे बैठना नहीं जानता। दूध उत्पादन की बात करें तो चीन भी तीसरे नंबर पर है और चीन ने 2018 में 3.16 करोड़ टन दूध का उत्पादन किया था। वहीं दुनिया के क्षेत्रफल के लिहाज से सबसे बड़ा देश रूस दूध उत्पादन के मामले में सातवें नंबर है।

4 पाकिस्तान
हमारा पड़ोसी देश भी चौथे नंबर पर बना हुआ  है। वह लगभग 42 मिलियन टन प्रतिवर्ष उत्पादन करता है ।

5.ब्राज़ील
ब्राज़ील दूध उत्पादन में पांचवें नंबर पर है।  2019 की बात करे तो ब्राजील 27.5 मिलियन मैट्रिक टन का उत्पादन करता है।

इस उत्सव पर भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया ने ट्वीट कर विश्व दुग्ध दिवस के अवसर पर लोगों को शुभकामना देते हुए कहा कि-   “विश्व दुग्ध दिवस पर बधाई।  यह दिन वैश्विक भोजन के रूप में दूध के महत्व को पहचानता है, और डेयरी क्षेत्र को मनाता है।  भारत दुनिया में सबसे बड़ा दूध उत्पादक है, डेयरी हमारी ग्रामीण अर्थव्यवस्था में एक विशेष स्थान रखती है।  #WorldMilkDay ”. 

आप भी दूध पीते रहिये और तंदरुसती बनाते रहिए।

Written by: Prachi Rathi
YUVA BHARAT SAMACHAR

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center