"> ');
Home » रेड अलर्ट जारी मुंबई पर मंडरा रही कोरोना से भी बड़ी मुसीबत
राष्ट्रीय

रेड अलर्ट जारी मुंबई पर मंडरा रही कोरोना से भी बड़ी मुसीबत

निसर्ग चक्रवात

Pooja cloths house

ऐसा लगता है कि साल 2020 दुनिया के लिए बुरे दौर को लेकर आया है। शुरुआत से ही 2020 में एक के बाद एक मुसीबत सामने आती रही हैं। भारत समेत तमाम देश कोरोना की मार झेल रहे हैं और इसके साथ ना जाने कितने खतरे सर पर मंडरा रहे हैं।

निसर्ग चक्रवात

इसी साल पश्चिम बंगाल में पहले अम्फान की वजह से नुकसान हो चुका है। जिसके बाद अब देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर एक बुरा साया पड़ता दिखाई दे रहा है।

दरअसल, मुंबई पर निसर्ग चक्रवात का खतरा मंडरा रहा है। तूफान की वजह से भारी बारिश और तूफानी हवाएं भी चलने का अनुमान लगाया जा रहा है। मुंबई में बारिश होनी शुरू हो गई है। इस पर मौसम विभाग का कहना है कि 12 घंटे के अंदर ही निसर्ग चक्रवात विकराल रूप ले सकता है।

मुंबई में रेड अलर्ट जारी

निसर्ग चक्रवात

मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवात ईस्ट-सेंट्रल अरब सागर के ऊपर 15 डिग्री उत्तर, पणजी के पश्चिम, दक्षिण-पश्चिम में 280 किलोमीटर और गुजरात में दक्षिण-दक्षिण पश्चिम सूरत से 490 किमी दूर है। ऐसे में इस निसर्ग तूफान का असर दिखना शुरू हो गया है। महाराष्ट्र और गुजरात तटों पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ यह तूफान तटों से टकराएगा। जिसके कारण भारी मात्रा में भूमि बिछल हो सकता है।मुंबई महानगरपालिका ने चौपाटी पर खतरे के निशान के तौर पर लाल झंडे के निशान लगाए हैं। निसर्ग के कारण मुंबई में बारिश होनी शुरू हो गई है।

 

खतरे से बचने की तैयारी में प्रशासन

मुंबई में मौसम विभाग की चेतावनी के बाद रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है और एनडीआरएफ, नेवी समेत तमाम रेस्कयू एजेंसियों मुस्तैद हैं। महाराष्ट्र में अलग-अलग इलाकों में NDRF की टीमों को निगरानी के लिए तैनात किया गया है। मुंबई में तीन टीम, पालघर में दो जबकि ठाणें में एक टीम को निगरानी सौंप दी गई है। आने वाले खतरे को देखते हुए समुंद्र तटों पर पूरी निगरानी रखी जा रही है। बताया जा रहा है कि अभी 100 नावें समुंद्र में है, जिसके चलते एनडीआरएफ की टीमों को तैनात कर दिया गया है।

Written by: Pooja Sahaniya
YUVA BHARAT SAMACHAR

 

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center