"> ');
Home » Choked: Paisa Bolta Hai से किया अनुराग ने अतरंगी Come Back
मनोरंजन

Choked: Paisa Bolta Hai से किया अनुराग ने अतरंगी Come Back

चोक्ड: पैसा बोलता है
Pooja cloths house

लॉकडाउन के चलते वैसे तो हर कोई चोक्ड ही है कोई अपने घरों में तो कोई अपने दफ्तरों में। ऐसे में अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित मूवी चोक्ड समाज को वास्तविकता से रू-ब-रू कराएगी। अनुराग ने चोक्ड मूवी में नवंबर 2016 में हुई नोटबंदी को निशाना बनाया है। हाल तो मूवी को पर्दे पर आने के दर्मियां लोगों ने नोटबंदी से अपने आप को उभार भी लिया और समय का पहिया उन्हें लॉकडाउन तक भी ले आया।

चोक्ड: पैसा बोलता है

अनुराग की इस लीग से हटकर मूवी का नाम चोक्ड: पैसा बोलता है। जो कि सच ही है आज के दौर में कुछ और बोले ना बोले भाईसाहब पैसा जरूर बोलता है। हालांकि, इस फिल्म की कहानी एक आम आदमी की गृहस्थी पर फोकस करती है। चोक्ड में एक मिडिल क्लास परिवार और उसकी परेशानियों को बखूबी दर्शाया गया है। साथ ही इस फिल्म की सिनेमाग्राफी बतौर डॉक्यूमेंट्री की गई है। मूवी में आपको काफी लेयर्स देखने को मिलेगीं।
हाल तो अगर इस मूवी की स्टार कास्ट की बात करें तो चोक्ड में सयामी खेर, रोशन मैथ्यू और अमृता सुभाष ने उम्दा प्रदर्शन किया है। साथ ही निहित भावी के द्वारा लिखी गई कहानी का अनुराग ने बेहतरीन निर्देशन करते हुए नोटबंदी को दर्शाया है। अमृता सुभाष के किरदार ने मूवी में जान डाल दी है। यकीनन, आप किसी के भी अभिनय को इग्नोर नहीं कर पाएंगे।
वैसे आपको बता दें कि भारत में हुई नोटबंदी पर बनी यह पहली फिल्म है। फिल्म 2 घंटे से भी कम की है। इस फिल्म में अनुराग ने बड़ी सहजता के साथ सरकार को खूब खरी खोटी भी सुनाई है।
आइए, जानते है क्या है कहानी…

चोक्ड: पैसा बोलता है

चोक्ड एक लोअर मिडिल क्लास की कहानी है। जो कि मुंबई में रहती है। परिवार में सरिता ( सयामी खेर ) अपने पति सुशांत (रोशन) और अपने बच्चे के साथ रहती है। फिल्म में सरिता और उसका पति सुशांत एक समय में गाने-बजाने का काम किया करते थे। समय बदलता है लेकिन हालात नहीं। सरिता की बैंक में जॉब लग जाती है वहीं सुशांत को निठल्ला दिखाया गया है। किंतु फिर भी पैसों की किल्लत उनका पीछा नहीं छोड़ती।
फिल्म की कहानी फुल ऑफ थ्रिलर है। जिसमें किचन के खराब सिंक से अचानक 500 व 1000 के नोटों की बारिश होने लगती हैं। जैसे ही बदहाल जिंदगी का ट्रैक बदलता है, वैसे ही मोदी जी की आवाज़ नोटबंदी की सूचना जन-जन तक पहुंचा देती हैं। सूचना मिलते ही एक तरफ तो सब भौंचक्के हो जाते और दूसरी ओर सुशांत अतरंगी स्टाइल में कहते है- अब आयेंगे अच्छे दिन… मूवी को मसालेदार बना देता है।
फिल्म में उस दौरान की शादियों में आई अड़चनों को भी अच्छे तरीके से फिल्माया गया हैं। नोटबंदी किस तरह एक आम आदमी की जिन्दगी से लेकर कैसे कालाबाजारी तक को प्रभावित करती है ये बात चोक्ड में बखूबी दिखाई गई है।
यह मूवी आपको नेटफ्लिक्स पर आसानी से मिल जायेगी।
चोक्ड का Official trailor देखने के लिए आप इस लिंक पर जा सकते है-

Written by: Vanshika Saini
YUVA BHARAT SAMACHAR
MahaLaxmi group of institution
MahaLaxmi group of institution