"> ');
Home » इस स्कूल में सिखाया जाता है ऐसा काम… जिसे जानकर आप हो जाएंगे शर्मसार
अलग हटके

इस स्कूल में सिखाया जाता है ऐसा काम… जिसे जानकर आप हो जाएंगे शर्मसार

SEX SCHOOL
SEX SCHOOL

Pooja cloths house

स्कूल हमारे जीवन का विशेष स्थान होता है, जहां से हम ज्ञान को लेकर जीवन को सफल बनाते हैं। स्कूल के बिना सब कुछ विरान होता है। स्कूल ही हमारे जीवन का सबसे अनमोल तोहफा होता है क्योंकि यदि जीवन में ज्ञान कहीं से मिलता है तो वह है स्कूल। सभी स्कूल में पढ़ाई ही कराई जाती है। ज्ञान का अध्ययन हर स्कूल में होता है लेकिन क्या आप जानते हैं एक ऐसा भी स्कूल है। जिसने ज्ञान और विज्ञान के लिए कोई जगह नहीं है। जी हां, बिल्कुल सही सुना आपने ये एक ऐसा स्कूल जिसकी हरकत आपको शर्मसार कर देगी। यहां पर बच्चों को ज्ञान नहीं बल्कि प्यार की भाषा सिखाई जाती है। इस स्कूल में सिखाया जाता है कि आप प्रेमी कैसे बन सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं इस स्कूल की पूरी जानकारी।यह स्कूल ऑस्ट्रिया के विएना में है, जो बच्चों को ज्ञान नहीं बल्कि प्रेमी बनने का अध्ययन कराता है। इस स्कूल में बच्चों को सेक्स लाइफ से संबंधित सभी पहलू को बारीकी से समझाते हैं। इस स्कूल में 16 साल से ज्यादा उम्र के छात्रों को एडमिशन मिलता है। इस अनोखे स्कूल में बच्चों को प्यार की अहमियत को जीवन में इस कदर सिखाया जाता है कि छात्र इसमें ज्यादा एडमिशन लेते हैं। विरोध करने के बावजूद भी यह स्कूल सफलता के साथ चल रहा है। स्कूल में अध्यापक बच्चों को सिखाते हैं कि किस प्रकार से बेहतर प्रेमी बना जा सकता है। बच्चों को सिखाया जाता है कि प्यार में कैसे उतार-चढ़ाव से सामना करना पड़ता है। इस स्कूल में थ्योरी के साथ-साथ प्रैक्टिकल कराकर बच्चों को क्लास देते हैं। यहां के छात्र-छात्राएं पूरे ग्लैमर और सेक्सी अंदाज में रहते हैं। प्यार की भाषा सीखने के बाद बच्चों को रिजल्ट घोषित किया जाता है और उनकी योग्यता के अनुसार सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

दोस्तों देखा आपने ऑस्ट्रिया के सेक्स स्कूल के बारें में। जहां बच्चों को वह पढ़ाया जाता है जो स्कूलों में सख्त मनाई होती है। इसी बात को लेकर यहां पर तेवर हंगामे और दंगे हो चुके हैं लेकिन छात्र-छात्राएं अपनी मर्जी से स्कूल में एडमिशन लेकर यह सब बातें सीखना चाहते हैं। यदि ऐसे और भी स्कूल खुले तो ज्ञान के विद्यालय का नाम खराब हो सकता है क्योंकि स्कूल में ज्ञान के अलावा यह चीजें शोभा नहीं देती इसलिए समझने और समझाने की जरूरत है।

स्कूल को सिर्फ स्कूल ही रहने दे… और बच्चों भी पहले अपने पढ़ाई पूरी करने के बाद अपना करियर सेट कर ले। फिर प्यार, मोहब्बत के चर्चे शुरू हो तो ज्यादा बेहतर होगा। हर चीज एक उम्र के दायरे में ही सही लगती है इसलिए इस तरह के स्कूल का बंद होना ही अच्छा होगा।

POOJA SAHANIYA

YUVA BHARAT SAMACHAR 

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center