"> ');
Home » ये आदतें नहीं देंगी आपको सुबह को उठने, जल्द ही छोड़ दें ये आदतें
अन्य

ये आदतें नहीं देंगी आपको सुबह को उठने, जल्द ही छोड़ दें ये आदतें


Pooja cloths house

अक्सर ऐसा होता है कि हम चाह कर भी सुबह को अपना बेड नहीं छोड़ पाते है। और इसके चलते कुछ लोग ना जानें कितने समझौते करते हैं। फिर चाहे बात की जाएं सुबह की कसरत की, मोर्निंग वॉक की… सब कुछ उस सुबह के आलस के चलते स्किप हो जाता है और हर रोज सब कुछ कल पर टलता चला जाता है। और हाथ लगता है तो सिर्फ आलसपन और मोटापा।

सुबह की नींद बेशक लोगों की बहुत ही प्रिय होती है और जिसके कारण दिन की शुरुआत घर के बड़ों के तानों से हो सकती है। लेकिन कुछ लोगों में ऐसा भी पाया गया कि वो सुबह के वक्त उठना तो चाहते हैं, लेकिन हाथ-पैरों और जोड़ों में दर्द के चलते बेड से चिपके पड़े रहते हैं। तो आज हम आपको बतायेगें कि आखिर वो कौन सी आदतें हैं, जिन्हें कॉमनली सभी जाने अनजाने अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनायें बैठे है। बता दें कि इन आदतों को छोड़ना उतना ही जरूरी हो जाता है, जितना की स्वस्थ और ऐक्टिव रहना।

  • व्यायाम है जरूरीyoga asana

व्यायाम के साथ से बेहतर, कोई औऱ शुरूआत हो ही नहीं सकती। सुबह की कसरत आपको सारे दिन काम करने की ऊर्जा प्रदान करती है और आप अपने आप को तरोताज़ा ही पाते है। क्योंकि व्यायाम या योगा करने से आपके शरीर में मौजूद हार्मोन्स बैलेंस हो जाते है। और ऐसा करने से आप रात को भी अच्छे से सो पाते है। क्योंकि आपका शरीर अपने आप को संतुलित पाता है तो सभी चीज़े बैलेंस रखने का हिसाब अच्छे से कर पाता है।

  • मीठे नाश्ते से बचे

मीठा खाना बहुत लोगों को काफी पसंद होता है, अगर बात की जाये सुबह के नाश्ते की तो कुछ लोगों की ये आदत भी होती है कि उन्हें सुबह सुबह मीठा खाने के लिए चाहिए ही होता है। जो कि बेहद हानिकारक सिद्ध हो सकता है। क्योंकि दिन की शुरूआत मीठे से करना सीधे सीधे बीमारियों को आमंत्रण देने जैसा ही होता है।

बता दें कि ऐसा करना अपने पेट के साथ खिलवाड़ करना ही होता है। इसीलिए आगे से ध्यान रखें कि मफिन, कॉफी, डोनट्स और बाकि के पकवान से बचें। हां, अगर आपका गुजारा मीठे के बिना नहीं होती है तो आप चाहे तो फ्रूट्स के जूस को पी सकते है। जो मीठे होने के साथ साथ सेहतमंद भी होते है। साथ ही आप नाश्ते में दलिया, पोहा या प्रोटीन और फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ जैसे चीज़ों को शामिल कर सकते हैं।

  • सांकेतिक चित्र

    उठ कर फिर से ना सोये

कई बार ऐसा होता है कि हमें सुबह सवेरे उठना पड़ता है, जिसके लिए हम अक्सर अलार्म का इस्तेमाल करते है और इसका परिणाम ये होता है कि अलार्म हमें उठाने में तो पूरा कारिगर होता है। लेकिन सिर्फ इतना कि आप उठ कर अलार्म घड़ी को बंद कर सकें। वास्तव में ऐसा लगभग सभी लोगों के साथ होता है कि वो सुबह उठ कर कुछ और नींद के मोह में अपनी अलार्म घड़ी को तीन से चार बार बंद करते है।

असल में ऐसा करना पता नहीं आपको नींद के अंतिम पल सुकून के देता भी है या नहीं। लेकिन ये बात तो तय है कि बार बार अलार्म को बंद करके सोने से आप अपने आप को तनाव के और करीब ला रहें होते हैं। और ऐसा भी पाया गया है कि जो लोग एक बारी में उठकर अपने कामों में लग जाते है वो बाकि लोगों से अधिक उत्पादक होते हैं।

  • सुबह उठते ही फोन को चेक ना करें

बहुत सारे लोगों की ऐसी आदत होती है कि वो उठते ही अपने फोन को चेक करते है। फिर चाहे बात की जायें ईमेल चेक करने की या फिर ई-न्यूज़ पेपर पढ़ना जैसी आदतें असल में आपके चारों ओर टेंशन का घेरा बनाती है। जिन्हें जल्द से जल्द बदल लेने में ही भलाई है। इसीलिए अपने दिन की शुरुआत स्क्रीन के बजाय शांति के साथ करने की कोशिश करें।

फोन के साइड इफेक्ट औऱ सॉल्यूशन के लिए किल्क करें…

  • भरपूर पानी पियें

चूंकि, रातभर में हमारे शरीर में पानी की कमी आ जाती है। तो इसीलिए दिन की शुरुआत करने के लिए एक बड़े गिलास पानी पीने से बेहतर कोई और विकल्प हो ही नहीं सकता। इसीलिए विशेषज्ञों का भी यहीं मानना है कि दिन की शुरुआत पानी पीने की सलाह देते हैं। ऐसा करने से आप दिनभर ऊर्जावान रहेंगे और लंबी उम्र तक जवान दिख सकते है।

Written By: Vanshika Saini

YUVA BHARAT SAMACHAR

 

We are hiring

Suraj mobile center

Suraj mobile center